ये है धामी का कमाल महज 50 दिन की मेहनत में ₹94 हजार करोड़ के इन्वेस्टमेंट एमओयू

0
92

प्रदेश में युवाओं को बेहतर रोजगार के अवसर प्राप्त होने के साथ ही प्रदेश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूती मिलेगी: धामी

ये है धामी का कमाल महज 50 दिन की मेहनत में ₹94 हजार करोड़ के इन्वेस्टमेंट एमओयू

एमओयू को धरातल पर उतारने का कार्य शुरु धामी सरकार में उच्चस्तरीय अधिकारीयों की तैनाती की गई है

मुख्यमंत्री धामी ने अपने कई टीवी इन्टरव्यू में स्पष्ट कहा है कि प्रदेश सरकार ईकोलाॅजी के संतुलन को ध्यान में रखते हुए इकोनाॅमी मजबूत करने का प्रयास कर रही है

ग्रीन इकोनाॅमी और रोजगार पर धामी सरकार का फोकस

-एमओयू धरातल पर उतारने के लिए उच्चस्तरीय अधिकारियों की मुख्यमंत्री धामी ने की तैनाती

पढ़े पूरी खबर कैसे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में उत्तराखंड निवेशकों की पसंद बनता जा रहा है

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में उत्तराखंड निवेशकों की पसंद बनता जा रहा है। प्रदेश में अबतक धामी सरकार देश और दुनिया के प्रतिष्ठित उद्योग समूहों के साथ 50 दिन की मेंहनत के बाद ₹94 हजार करोड़ से अधिक के निवेश करार कर चुकी है। धामी सरकार का प्रयास है कि प्रदेश में आगामी दिसम्बर माह से पहले अधिकत एमओयू को धरातल पर उतारने का कार्य शुरु कर दिया जाए। इसके लिए प्रदेश सरकार में उच्चस्तरीय अधिकारीयों की तैनाती की गई है। प्रदेश में अनुकूल परिस्थितियों को मध्यनजर रखते हुए धामी सरकार का इनवेस्ट उत्तराखंड का जो संकल्प लिया है वह सिद्ध होता नजर आ रहा है।
प्रदेश में धामी सरकार द्वारा जिन निवेशकों से इन्वेंस्टमेंट एमओयू साइन किए गए हैं उनमें प्रमुखतः टूरिज्म हास्पिटैलिटी सेक्टर, आयुष वेलनेस सेक्टर, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर, फार्मा सेक्टर, फूड प्रोसेसिंग, रियल एस्टेट-इंफ्रा, पंप्ड स्टोरेज सेक्टर, ग्रीन एंड रिन्यूएबल एनर्जी एवं आटोमोबिल सेक्टर शामिल हैं।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में अबतक देश से बाहर लंदन,बर्मिघम, अबुधाबी, दुबई में 4 इंटरनेशनल रोड शो हो चुके हैं जबकि देशभर में प्रदेश सरकार दिल्ली, चेन्नई, बेंगलुरु, अहमदाबाद में रोड शो कर चुकी है। बीते 14 सितंबर और 4 अक्टूबर को धामी सरकार दिल्ली में ₹26575 करोड़, 26 और 27 सितंबर को ब्रिटेन में ₹12500 करोड़, 17 और 18 अक्टूबर को यूएई में ₹15475 करोड़ के निवेश का करार कर चुकी है। इसके अलावा 26 अक्टूबर को चेन्नई में ₹10150 करोड़, 28 अक्टूबर को बेंगलुरु में ₹4600 करोड़ और 1 नवंबर को अहमदाबाद में ₹24000 करोड़ के निवेश प्रस्ताव का करार हुआ है।

*ग्रीन इकोनाॅमी पर धामी सरकार का फोकस*

मुख्यमंत्री धामी का प्रदेश में ग्रीन इकोनाॅमी पर फोकस है। मुख्यमंत्री धामी अपनी नीति को पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं। धामी सरकार ईकोलाॅजी और इकोनाॅमी के साथ प्रदेश में निवेश की ओर आगे बढ रही है। मुख्यमंत्री धामी ने अपने कई टीवी इन्टरव्यू में स्पष्ट कहा है कि प्रदेश सरकार ईकोलाॅजी के संतुलन को ध्यान में रखते हुए इकोनाॅमी मजबूत करने का प्रयास कर रही है। प्रदेश में धामी सरकार ने इसे ग्रीन इकोनाॅमी का नाम दिया है।

*युवाओं को मिलेगा रोजगार*

बीते दो माह में धामी सरकार ने कई नामी उद्योग समूहों से साथ निवेश करार किए हैं। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि सरकार का प्रयास है कि प्रदेश में नामी समूह अपने उद्योग धन्धे स्थापित करें जिसके जरिए प्रदेश में युवाओं को बेहतर रोजगार के अवसर प्राप्त होने के साथ ही प्रदेश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूती मिलेगी।

*क्रियान्वयन अधिकारियों की तैनाती*

प्रदेश में धामी सरकार ने निवेशकों से एमओयू साइन किए जाने के बाद अधिकारियों को एमओयू को धरातल पर उतारने के लिए सचिव स्तर से उपर की कमेटी बनाई है। इसके तहत 300 करोड़ से अधिक के एमओयू जिन कंपनियों के साथ किए गए हैं उनके क्रियान्वयन हेतु अधिकारियों की तैनाती की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here