9.2 C
Dehradun
Saturday, February 24, 2024

उत्तराखंड / पौड़ी: पूर्व में भी मारपीट व गुंडागर्दी के मामलों में संलिप्त रहने वालों ने डॉक्टरों पर कर डाला जानलेवा हमला बोले डॉक्टर आरोपियों से हमारी जान का खतरा

उत्तराखंड / पौड़ी: पूर्व में भी मारपीट व गुंडागर्दी के मामलों में संलिप्त रहने वालों ने डॉक्टरों पर कर डाला जानलेवा हमला बोले डॉक्टर आरोपियों से हमारी जान का खतरा

 

उत्तराखण्ड के पौड़ी जिला अस्पताल के डॉक्टरों पर हुए जानलेवा हमले के विरोध में जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने बुधवार को आधे दिन का कार्य बहिष्कार किया ओर काले फीते बांधकर विरोध भी जताया
वही अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक व डॉक्टरों ने पौड़ी जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के नाम पत्र लिखकर आरोपियों की गिरफतारी की मांग की है।
बताया जा रहा है कि आरोपियों द्वारा रात में जिला अस्पताल आकर डॉक्टरों को अस्पताल में ही जान से मारने की धमकी व अस्पताल को बंद कराने की धमकी के बाद डॉक्टरों मे भय का माहौल है।


वही पौड़ी कोतवाली में डॉक्टरों की शिकायत के बाद अभियोग पंजीकृत हो चुका है लेकिन इसके बावजूद भी आरोपियों के हौंसले बुलंद हैं।
जिला अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ प्रषांत जैन ने जानकारी दी कि 28 फरवरी 2022 की रात कैलाश पीजी हॉस्टल के स्वामी गुंजन नेगी पुत्र मनवर सिंह नेगी, अंजलि नेगी, गुंजन नेगी के भाई मोंटी नेगी निवासी विकास मार्ग पौड़ी व 6-7 अन्य अज्ञात लोगों द्वारा डॉॅ राहुल सैनी व जिला अस्पताल पौड़ी के अन्य डॉक्टरों पर रॉड व धारधार हथियार से हमला किया गया।
जानकारी है कि गुंजन नेगी विकास मार्ग रोड पर कैलाश पीजी के नाम से हॉस्टल संचालित करता है। पौड़ी अस्पताल में कार्यरत स्थानीय निवासियों ने जानकारी दी कि गुंजन नेगी के भाई मोंटी नेगी का पौड़ी बाजार में होटल मानसरोवर है। मोंटी नेगी पूर्व में भी मारपीट व गुंडागर्दी के मामलों में संलिप्त रहा है।
जानकारी है कि डॉ राहुल के सिर पर गम्भीर चोटें आई है
वही डॉक्टरों ने पुलिस से सुरक्षा की मांग की है। बताया जा रहा है कि गुंजन नेगी, अंजलि नेगी व उनके भाई मौंटी नेगी ने डॉक्टरों को दोबारा हमले की धमकी दी है इसके चलते डॉॅक्टरों ने बुधवार को कार्य बहिष्कार किया। चिकित्सा अधीक्षक डॉ प्रषांत जैन, डॉ सौरभ जुनेजा, डॉ श्रीषांक, डॉ माणिक, डॉ अभिनव व अस्पताल मैनेजर प्रमोद चौहान ने जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय जाकर सम्बन्धित अधिकारियो को दोबारा लिखित शिकायत देकर मामले पर हस्तक्षेप की मांग की है। डॉक्टरों के जिला अस्पताल के वही प्रतिनिधिमण्डल ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles