सूबे में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के उद्देश से राज्य सरकार ने 21 राजकीय इंटर काॅलेजों को कलस्टर विद्यालय बनाने की मंजूरी दे दी है

0
24

21 कलस्टर विद्यालयों को मिली मंजूरी, 24 करोड़ स्वीकृत: डा. धन सिंह रावत

सूबे में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के उद्देश से राज्य सरकार ने 21 राजकीय इंटर काॅलेजों को कलस्टर विद्यालय बनाने की मंजूरी दे दी है

विभागीय मंत्री के निर्देश पर 14 करोड़ की धनराशि जारी : डा. धन सिंह रावत

विभागीय मंत्री ने बताया इन चयनित कलस्टर विद्यालयों में विभिन्न निर्माण कार्यों के लिये कुल रू0 23 करोड़ 74 लाख 67 हजार की धनराशि स्वीकृत की गई है।

सूबे में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के उद्देश से राज्य सरकार ने 21 राजकीय इंटर काॅलेजों को कलस्टर विद्यालय बनाने की मंजूरी दे दी है। चयनित विद्यालयों में भवनों एवं अन्य निर्माण कार्यों के लिये लगभग 24 करोड़ की धनराशि स्वीकृत की गई है। जिसमें से पहली किस्त के रूप में 14 करोड़ 24 लाख की धनराशि संबंधित विद्यालयों को जारी कर दी गई है। योजना के प्रथम चरण में रूद्रप्रयाग, उत्तरकाशी, देहरादून, टिहरी गढ़वाल एवं पिथौरागढ़ जनपद के चयनित राजकीय इंटर काॅलेजों को कलस्टर विद्यालय के रूप में स्थापित किया जा रहा है। वर्तमान वित्तीय वर्ष में विभाग द्वारा करीब 100 विद्यालयों को कलस्टर विद्यालयों के रूप में स्थापित करने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है।

सूबे के विद्यालयी शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने बताया कि राज्य सरकार ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के प्रावधानों एवं शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के दृष्टिगत आस-पास के कम छात्र संख्या वाले विद्यालयों का विलय कर कलस्टर विद्यालय स्थापित करने का निर्णय लिया है। वर्तमान वित्तीय वर्ष में शिक्षा विभाग द्वारा करीब 100 विद्यालयों को कलस्टर विद्यालय के रूप में स्थापित करने का प्रस्ताव सरकार को प्राप्त हुये हैं जिनमें से प्रथम चरण में रूद्रप्रयाग, उत्तरकाशी, देहरादून, टिहरी गढ़वाल एवं पिथौरागढ़ जनपद के 21 राजकीय इंटर काॅलेजों को कलस्टर विद्यालय बनाये जाने की मंजूरी दे दी है। जिसमें रूद्रप्रयाग एवं उत्तरकाशी के तीन-तीन विद्यालय, देहरादून व टिहरी गढ़वाल के चार-चार तथा पिथौरागढ़ जनपद के सात विद्यालय शामिल हैं। विभागीय मंत्री ने बताया इन चयनित कलस्टर विद्यालयों में विभिन्न निर्माण कार्यों के लिये कुल रू0 23 करोड़ 74 लाख 67 हजार की धनराशि स्वीकृत की गई है। जिसमें रूद्रप्रयाग जनपद के राजकीय इंटर काॅलेज मनसूना के लिये रू0 142 लाख, इंटर कालेज घिमतोली को रू0़ 121 लाख तथा इंटर कालेज सिद्धसौड के लिये रू0 146 लाख की धनराशि मंजूर की गई है। इसी प्रकार उत्तरकाशी जनपद में अटल उत्कृष्ट राजकीय इंटर काॅलेज नैटवाड के लिये रू0 137 लाख, इंटर काॅलेज बडेथ रू0 141 लाख तथा रानागीठ इंटर काॅलेज के लिये रू0 149 लाख की धनराशि स्वीकृत की गई है। देहरादून जनपद में राजकीय इंटर काॅलेज ग्वासापुल के लिये 125 लाख, माजरीग्रांट को रू0 118 लाख, पजिटिलानी रू0 107 लाख तथा राजकीय इंटर काॅलेज गुनियालगांव के लिये रू0 122 लाख की धनराशि स्वीकृत की गई है। टिहरी गढ़वाल में राजकीय इंटर काॅलेज ढुंगीधार को रू0 116 लाख, कफलोग रू0 114 लाख, डांगी नैलचामी रू0 119 लाख तथा राजकीय इंटर काॅलेज जाखी डागर के लिये रू0 113 लाख की धनराशि मंजूर कर दी है। पिथौरागढ़ जनपद में राजकीय इंटर काॅलेज गुरना को रू0 95 लाख, मानले को रू0 73 लाख, डीडीहाट रू0 96 लाख, राईआगर रू0 94 लाख, गणई गंगोली रू0 94 लाख, बलुवाकोट रू0 66 लाख तथा राजकीय इंटर काॅलेज मदकोट के लिये रू0 105 लाख की धनराशि स्वीकृत कर दी गई है। डा. रावत ने कहा कि चयनित कलस्टर विद्यालयों में शीघ्र निर्माण कार्य शुरू करने के लिये पहली किस्त के तौर रू0 14 करोड़ 24 लाख की धनराशी जारी कर दी गई है। जिससे इन विद्यालयों में आवश्यकतानुसार भवन, कक्षा-कक्ष, पुस्तकालय, विज्ञान प्रयागशालाएं, प्रधानाचार्य कक्ष, शौचालय ब्लाॅक के निर्माण के साथ ही मरम्मत कार्य किये जायेंगे। इस संबंध में विभागीय अधिकारियों को शीघ्र निर्माण कार्य शुरू कर कलस्टर विद्यालयों में सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दे दिये गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here