मंत्री ने कहा शहीदों के सम्मान ओर उनके वीरता के बखान करना हर देश वासी का कर्तव्य है और इस दिशा में सरकार अग्रसर है

0
11

पीबीओआर पूर्व सैनिक वेलफेयर एसोसिएशन के 15वें स्थापना दिवस को सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने किया संबोधित

सैनिकों के बीच में एक मंत्री नहीं बल्कि, एक सैनिक के रूप में आता हूं :मंत्री गणेश जोशी

सैनिक के कार्यक्रमों में जाकर उनके बीच एक परिवार का एहसास होता है: जोशी

मंत्री गणेश जोशी ने कहा चाहे दिल्ली की केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार लगातार सैनिकों के कल्याण के लिए कार्य कर रही है

मंत्री ने कहा शहीदों के सम्मान ओर उनके वीरता के बखान करना हर देश वासी का कर्तव्य है और इस दिशा में सरकार अग्रसर है

सैनिकों के सम्मान में देहरादून के गुनियाल गांव में भव्य सैन्य धाम का निर्माण किया जा रहा है जो जल्द ही प्रदेश की जनता को समर्पित किया जाएगा।

प्रदेश के सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने आज देहरादून गढ़ी कैन्ट स्थित गोर्खाली सुधार सभा में पीबीओआर पूर्व सैनिक वेलफेयर एसोसिएशन के 15वें स्थापना दिवस के अवसर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। समारोह में स्कूली छात्र छात्राओं द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी दी गई। इस दौरान सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने वीर नारियों पूर्व सैनिकों को भी स्मृति चिन्ह देकर एवं शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया।
इस अवसर पर सैनिक मंत्री गणेश जोशी ने पीबीओआर पूर्व सैनिक वेलफेयर एसोसिएशन को स्थापना दिवस की बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जब भी वह सैनिकों के कार्यक्रमों में जाते हैं, वह एक मंत्री या विधायक के रूप में नहीं बल्कि एक सैनिक के तौर पर आते हैं। उन्होंने कहा सैनिक के कार्यक्रमों में जाकर उनके बीच एक परिवार का एहसास होता है। मंत्री गणेश जोशी ने कहा चाहे दिल्ली की केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार लगातार सैनिकों के कल्याण के लिए कार्य कर रही है। मंत्री ने कहा शहीदों के सम्मान ओर उनके वीरता के बखान करना हर देश वासी का कर्तव्य है और इस दिशा में सरकार अग्रसर है। उन्होंने कहा सैनिकों के सम्मान में देहरादून के गुनियाल गांव में भव्य सैन्य धाम का निर्माण किया जा रहा है। जो जल्द ही प्रदेश की जनता को समर्पित किया जाएगा।
सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने कहा प्रदेश में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कुशल नेतृत्व राज्य सरकार ने ड्यूटी के दौरान देश की रक्षा करते हुए शहीद होने वाले सैनिकों व अर्द्ध सैनिक बलों के आश्रितों को उनकी योग्यता के अनुसार राजकीय सेवा में लिए जाने का निर्णय लिया गया है। अभी तक 26 लोगों को रोजगार प्रदान किया गया है। उन्होंने कहा राज्य सरकार सैनिकों व उनके परिजनों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। इस अवसर पर अल्पसंख्यक आयोग पूर्व अध्यक्ष पद्मश्री डॉ.आर.के. जैन और पीबीओआर केन्द्रीय अध्यक्ष शमशेर बिष्ट ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

इस अवसर अल्पसंख्यक आयोग पूर्व अध्यक्ष पद्मश्री डॉ.आर.के. जैन, पीबीओआर केन्द्रीय अध्यक्ष शमशेर बिष्ट, महासचिव आरडी शाही, संगठन मंत्री कैप्टन सुरेंद्र सिंह, सूबेदार वाई.डी.शर्मा, राजकुमारी थापा, कमला गुरुंग, सूबेदार देव सिंह सहित कई लोग उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here